देहरादून की बेटी का वॉयस इंडिया किड्स में जलवा, टॉप-6 बनाई जगह, देखें वीडियो

7

& टीवी पर आ रहे रियालिटी शो वॉयस इंडिया किड्स में देहरादून के पिता-बेटी की जोड़ी ने घूम मचा रखी है। देहरादून के विकास व ङीरा मुखिया की 11 साल की बेटी शिकायना ने इस शो के टॉप-टेन में जगह बना कर खासी सुर्खियां बटोर ली हैं।देहरादून के सेंट थॉमस स्कूल की क्लास 6 में पढ़ने वाली शिकायना ने इस शो में अपनी खास गायिकी से यह मुकाम हासिल किया है। इस शो में राज्य के कुछ और बच्चों ने भी हिस्सा लिया लेकिन वो पहले कुछ राउंड में ही बाहर हो गये, वहीं शिकायना अपनी गायिकी के बल पर सफलता की सीढ़ियां चढ़ती गई।

शिकायना के पिता विकास खुद एक गायक हैं और बिना किसी फॉर्मल ट्रैनिंग के अपनी गायिकी को आगे बढ़ा रहे हैं। अपने पिता से ही उसे विरासत में संगीत के प्रति लगाव मिला है औऱ कम उम्र से ही वो गीतों को गुनगुनाती आ रही है। फिलहाल वो देहरादून वापस आ गई हैं और चैनल की तरफ से मुकाबले के अगले पड़ाव की तारीख का इंतज़ार कर रही है। संगीत के अलावा वो छोटी कहानियां भी लिखती हैं और अपने छोटे भाई के साथ खेलना भी उसे खासा पसंद है। शिकायना की मां देहरादून के ही कर्नल ब्राउन स्कूल में पढ़ाती हैं।

शिकायना के लिये मुकाबले के सबसे यादगार पलों में से है वो पल जब उसने जज हिमेश रेशमिया की नकल की और जजों और लोगों ने उसे खूब पसंद किया। शान, हिमेश, पलक, पपॉन जैसे संगीत के दिग्गजों के सामने परफॉर्म करने के एहसास के बारे में वो कहती है कि, थोड़ा नर्वस थी, एक्साइटेड भी। मैने ‘कैसी पहेली है ये ज़िदगी’ गाया और सभी जजों ने मेरी तारईफ की तो काफी अच्छा लगा।

पिता-बेटी की ये जोड़ी उत्तराखंड मे ही नही देशभर में खासी पसंद की जा रही है, शिकायना के पिता बताते हैं कि, कल ही मेरी बेटी को महाराष्ट्रा के फैंस की तरफ से तोह्फा आया है। आज ङीरा और विकास अपनी बेटी की अभी तक की कामयाबी से खासे खुश हैं, वो कहते हैं कि, हमारी बेटी ने इस कड़े मुकाबले में जो मुकाम हासिल किया है वो ही हमारे लिये किसी जीत से कम नही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here